Speeches

September 29, 2018

नई दिल्ली में महाराजा अग्रसेन जयंती के उपलक्ष्य पर आयोजित कार्यक्रम में संबोधन

हमारे बीच उपस्थित भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश के जुझारू प्रदेश अध्यक्ष श्री महेंद्र नाथ पांडेय जी, मेरे छोटे भाई और वास्तव में अभी बताया गया कि वह भाजपाई हो गए हैं, मेरा तो मानना है कि वह मिसफिट थे जहाँ थे, अभी अपने सही ठिकाने पर, अपने सही घर पर आये हैं, ऐसे नितिन अग्रवाल जी, मेरे मित्र और राज्य सभा में साथी माननीय श्री अनिल अग्रवाल जी, श्री अमित अग्रवाल जी, पूर्व विधायक; श्री विनोद अग्रवाल जी, मुरादाबाद के हमारे लोकप्रिय मेयर; श्री कपिल देव अग्रवाल जी, मुजफ्फरनगर के विधायक; माननीय श्री महेश गुप्ता जी, बदायूं के विधायक; श्री राजकुमार अग्रवाल जी, संडीला के विधायक; श्री उमेश अग्रवाल जी, श्री राकेश अग्रवाल जी, श्री मुकेश अग्रवाल जी…. वैसे तो मुझे लगता है आज पूरा ही अग्रवाल समाज यहाँ पर उपस्थित हो गया है उत्तर प्रदेश का|

सभी माननीय समाज के वरिष्ठ नेता मंच पर, मंच के नीचे और सभी उपस्थित बहनों, भाईयों महानुभाव, समाज के बहुत ही प्रतिष्ठित उत्तर प्रदेश से आये हुए भाईयों और बहनों| आज वास्तव में ऐतिहासिक दिन है, सर्जिकल स्ट्राइक को आज दो वर्ष पूरे होते हैं| और आज नरेश जी ने बहुत सही दिन चुना और मैं चाहूँगा कि और कुछ बातचीत करने के पहले हम सब खड़े होकर एक बार प्रधानमंत्री मोदी जी और हमारे सेना के सभी जवानों को नमन करें, उन सबको बधाई दें|

वास्तव में मैं समझता हूँ भारत के इतिहास में शायद ही कोई ऐसा नेता अभी तक आया है जिसने दो टूक जवाब देकर पाकिस्तान को बताया कि भारत के साथ छेड़खानी कोई कर नहीं सकता, भारत कोई भी चुनौती को सामना करने के लिए तैनात है| और भारत के सवा सौ करोड़ लोग अपनी सरकार के पीछे खड़े हैं, अपने नेतृत्व के साथ खड़े हैं और पूरी तरीके से भारत की अखंडता, भारत की एकता को हम कभी भी ख़राब नहीं होने देंगे, कभी भी उसको दांव पर नहीं चढ़ाने देंगे|

और मैं समझता हूँ भारतीय जनता पार्टी ने जो नारा 1980 में दिया था, और मुझे अभी भी याद है जब 1980 में भाजपा बनी तब नारा था ‘सारे समाज को साथ लिए हमें आगे है बढ़ते जाना’| और मैं समझता हूँ प्रधानमंत्री मोदी जी ने 1980 में जब भाजपा की स्थापना हुई उस समय की जो विचारधारा थी उसको वास्तव में देश और दुनिया के सामने सबका साथ, सबका विकास करके एक प्रकार से देश में एक नया उत्साह, एक नयी उमंग, एक नयी इच्छा शक्ति कि हम एक ईमानदार देश के रूप में विश्व में पहचाने जायें, हम एक अच्छे प्रगतिशील देश के रूप में विश्व में पहचाने जायें|

और इसी को मद्देनज़र रखते हुए गत चार वर्षों में माननीय प्रधानमंत्री जी, केंद्र सरकार और भाजपा की सभी सरकारों ने अन्य-अन्य प्रकार से देश की अर्थव्यवस्था को सुधारा है, देश की अर्थव्यवस्था को एक नया रूप दिया है| और मैं समझता हूँ कि कहाँ एक ज़माने में 2013 में भारत को ‘Fragile 5 Economy’ का नाम दिया जाता था, विश्व की जो सबसे कमज़ोर 5 अर्थव्यवस्थाएं हैं उसमें से भारत को माना जाता था|

और आज प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व से और आप सबके योगदान से आज भारत विश्व में सबसे तेज़ गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गयी है| और मैं आप सबको तहे दिल से धन्यवाद देना चाहूँगा क्योंकि यह असंभव था जब तक पूरा व्यापारी समाज पूरी तरीके से इस नयी व्यवस्था के साथ, इस ईमानदार व्यवस्था के साथ जुड़ने के लिए संकल्प नहीं लेते|

मैं समझता हूँ आज अगर देश में अलग-अलग प्रकार से महाराजा अग्रसेन के सभी लोगों ने जिस प्रकार से इस देश को नया एक रूप दिया है काम करने का, नया तरीका बनाया है काम करने का और जो एक नयी पहचान भारत में व्यापार की बनी है वह आगे चलकर इस देश को बहुत तेज़ गति से विकास के रास्ते पर और आगे बढ़ाएगा|

अभी-अभी बात हो रही थी ब्राह्मण और बनिया की पार्टी और ब्राह्मण और बनिये का गठजोड़, मैं समझता हूँ भारतीय जनता पार्टी आज एक ऐसी पार्टी है जो सारे समाज को जोड़ने में लगी है, चाहे ब्राह्मण हो, चाहे बनिया हो, चाहे क्षत्रिय हो, चाहे ठाकुर हो, चाहे दलित हो, समाज का हर वर्ग भारत का एक बहुत ही इम्पोर्टेन्ट, बहुत ही मेरे ख्याल से एक ऐसा भारत की जो अर्थव्यवस्था, भारत की जो पूरे देश की सामाजिक व्यवस्था है उसमें हर एक व्यक्ति का योगदान इतना अहम है और जब तक हम पूरे देश को एक साथ एक धागे में नहीं पिरोयेंगे तब तक देश प्रगति और उन्नति नहीं कर सकता|

वह ज़माना था जब हमें ब्राह्मण और बनिया की पार्टी कहा जाता था पर तब भारतीय जनता पार्टी का इतना व्यापक रूप कभी नहीं बना| पूरे देश में पूर्ण रूप से बहुमत पाकर लोक सभा में शासन में आना और देश में इतने सारे राज्यों में हमारी सरकार बनना यह तब तक नहीं संभव था जब तक सारे समाज को हम साथ में नहीं लेकर चलेंगे| और मैं समझता हूँ आज जिस प्रकार से पूरे देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व की सराहना होती है, जो पूरे देश की युवा शक्ति उनके साथ खड़ी है मुझे पूरा विश्वास है कोई गठबंधन बन जाये, कोई महागठबंधन बन जाये अगला चुनाव भारतीय जनता पार्टी 51% का चुनाव लड़ेगी और हर सीट पर 51% वोट के लिए हम लड़ाई लड़ेंगे, जीत के लाएंगे और इस देश में फिर एक बार 2019 में पूर्ण बहुमत की प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व की भाजपा-एनडीए की सरकार फिर एक बार स्थापित करेंगे 2019 में, यह संकल्प आज मावलंकर हॉल में हम सबने लेना है|

वैश्य समाज, जैसा अभी-अभी महेंद्र जी बता रहे थे, वास्तव में माना जाता है एक दानवीरों के समाज के लिए| महाराजा अग्रसेन जी ने जो हमें सीख दी थी जिसमें कोई नया व्यक्ति गाँव आता था तो एक ईंट और एक रुपया समाज उनको देता था| एक ईंट इसलिए कि वह अपना घर बना सकें, एक रुपया इसलिए कि वह अपना व्यापार शुरू कर सकें| और मैं समझता हूँ कि अगर आप गहराई से मोदी जी के सभी कार्यक्रमों को देखेंगे तो प्रधानमंत्री मोदी जी महाराजा अग्रसेन जी के दिखाए हुए रास्ते पर आज अपने पूरे देश की व्यवस्थाओं को बना रहे हैं|

हमने संकल्प लिया है कि 2022 जब भारत की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होंगे तब तक भारत में एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं रहेगा जिसके सर पर छत न हो, जिसके खुद का मकान न हो| और आप सोचिये आज जिस प्रकार से प्रधानमंत्री आवास योजना में शहरी क्षेत्र में भी और गाँव में भी जो आर्थिक सहायता केंद्र सरकार दे रही है लगभग 20 वर्षों तक जो व्यक्ति 6 लाख रुपये का लोन लेता है, 20 वर्षों तक 6.5% उस लोन का ब्याज भारत सरकार भरेगी ऐसी योजना प्रधानमंत्री मोदी जी हम सबके लिए लाये हैं|

फिर कोई बड़ा लोन लेता है 9 लाख का या 12 लाख का उनके लिए भी ब्याज की छूट देकर आज गरीब के लिए, निम्न मध्यम वर्ग के लिए, मध्यम वर्ग के लिए सभी के लिए अपने घर का मकान मालिक बनने का एक रास्ता, एक मार्ग बनाया है प्रधानमंत्री मोदी जी ने उसी तरीके से जैसे महाराजा अग्रसेन जी ने एक ईंट की कल्पना की थी|

और जब पूरे गाँव में एक-एक व्यक्ति एक-एक ईंट देता था और घर बनता था तो वास्तव में एक प्रकार से हम सब व्यापारी समाज जब अपना टैक्स भरते हैं, जब ईमानदार व्यवस्था से जुड़ते हैं चाहे वह जीएसटी हो, चाहे वह इनकम टैक्स हो, जब हम वह टैक्स भरते हैं तो आखिर वही तो हमारा दिया हुआ टैक्स का पैसा है जिससे गरीबों को अपना घर बनाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी जी आवास योजना के तहत सहायता देते हैं|

तो एक प्रकार से वही महाराजा अग्रसेन की जो सोच थी, जो उनका विचार था उसको प्रधानमंत्री मोदी जी ने ज़मीन पर उतारा और हम सबका दिया हुआ टैक्स समाज के गरीब, समाज के निम्न मध्यम वर्ग को काम आये उसकी कल्पना करते हुए हर व्यक्ति को न सिर्फ घर मिले, घर में अच्छा शौचालय हो, घर में चौबीस घंटे बिजली हो जिसका कनेक्शन मुफ्त में सौभाग्य योजना से भारत सरकार दिलवाएगी, घर में अच्छा पेयजल हो जिसके लिए अन्य-अन्य कार्यक्रम चल रहे हैं, खासतौर पर गंगा की सफाई की योजना माननीय श्री नितिन गडकरी लेकर काम कर रहे हैं|

इसी प्रकार से ग्रामीण सड़कों का जो बड़ा जाल फैलाया है जिससे हर गाँव तक अच्छी सड़क पहुंचे, अच्छे हाईवेज़ बनें देश को जोड़ते हुए, हर गाँव तक इन्टरनेट की फैसिलिटी पहुंचे, दूरदराज़ के इलाकों में हवाई अड्डे की सुविधाएं हो, हवाई जहाज़ पहुंचे| हवाई जहाज़ में सिर्फ अमीर लोग नहीं पर जैसा प्रधानमंत्री जी कहते हैं हवाई चप्पल पहनने वाला सामान्य व्यक्ति भी हवाई जहाज़ में जा सके ऐसी व्यवस्था की|

आयुष्मान भारत के तहत हर गरीब, हर निम्न मध्यम वर्गीय परिवार को 5 लाख रुपये प्रति वर्ष तक का मुफ्त में इलाज देने का जो कार्यक्रम हाल ही में शुरू किया है मैं समझता हूँ विश्व में इतना बड़ा कार्यक्रम आज तक इतिहास में किसी ने नहीं दिया| आखिर इस सबके लिए जो धन जुटाना पड़ता है वह कहाँ से आता है? जैसे महाराजा अग्रसेन जी ने कहा था कि नया व्यक्ति आये तो हम सब गाँव वाले एक-एक रुपया उनको देंगे जिससे वह अपना व्यापार शुरू कर सकें, अपने स्वावलंबी जीवन बिता सकें, अपने पैरों पर खड़ा हो सके वैसे ही माननीय प्रधानमंत्री जी ने मुद्रा योजना बनाई और बैंकों को कहा कि आप सामान्य व्यक्ति को, एक छोटे व्यापारी को पैसा देंगे, लोन देंगे, कम ब्याज पर लोन देंगे, उसके टैक्स के रिटर्न देखकर, उसका टर्नओवर देखकर, उसका व्यापार देखकर उसको आर्थिक सहायता देंगे|

और मैं समझता हूँ एक प्रकार से अग्रसेन जी ने जो कल्पना रखी थी वह फिर एक बार जो बड़े लोग बड़े-बड़े लोन लेते थे और कभी वापिस नहीं देते थे बैंकों को उन सबको मजबूर किया गया कि वह बैंक में अपना लोन वापिस दें, बैंक का लोन नहीं वापिस देंगे तो उनकी संपत्ति छीन ली जाएगी उसको बेचकर बैंक में फिर से पैसा आएगा और वह पैसा हम सब व्यापारियों को मिलेगा कि हम एक ईमानदार व्यवस्था से जुड़कर अपना व्यापार कम ब्याज पर पैसा हमें बैंक से मिले और एक अच्छा मुनाफे वाला व्यापार हम कर सकें|

आखिर यही कल्पना थी महाराजा अग्रसेन की जिसपर आज प्रधानमंत्री मोदी जी चल रहे हैं| आप याद करिए वह दिन, आप या हम एक छोटा लोन लेते थे बैंक से, कई बार बैंक देने की स्थिति में नहीं रहते थे क्योंकि उन्होंने सब पैसा तो बड़े उद्योगपति और पूंजीवादियों को दे दिया होता था तो हमें साहूकार के पास जाकर महंगा पैसा लेना पड़ता था| और अगर हम अपना छोटा सा लोन नहीं दे पाते थे तो कैसे बैंक वाला हमें आकर परेशान करता था लेकिन जो बड़े पूंजीपति थे जो 10,000/20,000/50,000 करोड़ के लोन लेते थे उनके ऊपर तो कभी बैंकिंग की व्यवस्था ने आज तक प्रहार किया ही नहीं था| उनको तो लगता था अब बैंक का लोन हमारे को मिल गया अब बैंक की जवाबदारी है वह कैसे वापिस लेगा, हमारी कोई जवाबदारी नहीं है वापिस देने की|

मोदी जी ने इस पूरी व्यवस्था को बदला, उन्होंने कहा जो व्यक्ति बैंक में पैसा नहीं देता है बड़े से बड़ा व्यक्ति क्यों न हो उसको भी मजबूर किया जायेगा कि वह बैंक में अपना लोन वापिस लौटाए और मेरे छोटे व्यापारी भाईयों को, छोटे गरीब लोगों को अपने काम के लिए पैसा बैंक कम ब्याज पर दे|

मैं समझता हूँ हमारे समाज की एक सबसे बड़ी जो कमी रही है, हमने कभी इस विषय को, इस बात को अच्छी तरीके से समझने की कोशिश नहीं की कि एक ईमानदार व्यवस्था, एक स्वच्छ अर्थव्यवस्था जब बनती है उसका सबसे बड़ा लाभ अगर किसी को होता है तो वह आपको होता है, हमारे समाज को होता है| हममें से कोई भी, नरेश जी आप जेल और बेल की बात कर रहे थे, मैं समझता हूँ मावलंकर हॉल में आज उपस्थित एक भी व्यक्ति की इच्छा नहीं है कि वह कोई गलत काम करे, कि कोई वह टैक्स की चोरी करे, कोई अपना टैक्स ईमानदारी से नहीं भरे| यहाँ बैठा हुआ, खड़ा हुआ हर एक व्यक्ति ईमानदार बनना चाहता है, ईमानदार रहना चाहता है|

और मेरा तो अनुभव है जब हमने नोटबंदी की, जब जीएसटी लागू किया तब जहाँ-जहाँ पर मैं गया, कई बार नरेश जी और मेरी उम्र के लोग तो शायद थोड़ा परेशान नज़र आते थे, दुखी भी नज़र आते थे| लेकिन जो युवा आते थे, युवा-युवती सबसे ज्यादा उत्साहित होते थे क्योंकि वह नहीं चाहते हैं कि बाप-दादा की तरह दो-दो बहीखाते रखना, एक कच्चा एक पक्का, कभी दुकान पर जाओ तो भरोसा नहीं है कौन टैक्स का अधिकारी आ जायेगा, कौन परेशान करेगा|

मुझे याद है जब मैं फैक्ट्री चलाता था मुंबई में, कभी सुबह फैक्ट्री पहुँचो और गेट के बाहर अगर सफ़ेद एम्बेसडर खड़ी हो तो लगता था मर गए आज घर जायेंगे भी कि नहीं, नहीं पता| और उस पर अगर लिख दिया हो टैक्स के डिपार्टमेंट का वह गोल चक्कर लगाते थे पता नहीं आपको किसी को याद है कि नहीं, एम्बेसडर कार सफ़ेद रंग की पीछे एक गोल चक्कर|

यह सब व्यवस्थाओं को बंद करने के इरादे से प्रधानमंत्री मोदी जी ने एक ईमानदार व्यवस्था को प्रोत्साहन देने के लिए थोड़े कठोर कदम ज़रूर उठाएं हैं लेकिन इस कठोर कदम का सबसे ज्यादा लाभ अगर किसी को मिलेगा तो वह आपको मिलेगा, हमारे छोटे व्यापारी, हमारे छोटे उद्योगों को मिलेगा|

नरेश जी कई बार हमारे लोग 10 दुकानें चला रहे हैं, 10 में से कोई हर एक जना चोरी नहीं करना चाहता, हो सकता है कोई एक या दो व्यक्ति उसमें से टैक्स की चोरी करते हों| अब जब वह 1-2 व्यक्ति टैक्स की चोरी करते थे तो उनका सामान स्वाभाविक है सस्ता हो जाता था, सामान सस्ता होता था तो बाकी 8 क्या करें? या तो दुकान बंद करके गाँव चले जायें, और या वह भी चोरी करना शुरू करें तो तब कम्पटीशन ठीक हो जाएगी दोनों के दाम कम हो जायेंगे| पर यह व्यवस्था चल सकती है क्या और जब तक यह व्यवस्थाएं ऐसी चलेंगी तब तक अधिकारी वर्ग हमारे ऊपर हावी रहेगा|

लेकिन अगर हम सबने तय कर लिया कि हम सिर्फ ईमानदार व्यवस्था को प्रोत्साहन देंगे और पुरानी बातें भूल जायें, वह एक परिस्थिति थी जिसमें कई लोगों को शायद कुछ गलत काम करने भी पड़े हों लेकिन अब समय आ गया है कि हम सब एक ईमानदार व्यवस्था से जुडें| अगर एक-दो लोग कुछ गलत काम करते हैं तो उनको पकडवा दें लेकिन हम सब अपनी ईमानदारी से व्यापार करें जिससे व्यापार इक्वल होगा, सामान्य होगा और हमारा मुनाफा हमारी गुणवत्ता पर होगा, हमारा सामान अच्छा हो, हमारी सेवाएं अच्छी हो उसपर हम मुनाफा करेंगे, टैक्स की चोरी करके मुनाफा किया हुआ कभी फलता नहीं है|

और मैं समझता हूँ जब पूरे देश में यह ईमानदार व्यवस्था जैसे-जैसे फैलेगी और जिसके लिए मैंने जितनी जगह यह बात रखी है मुझे सम्पूर्ण रूप से हमारे समाज ने पूरा आशीर्वाद दिया है, पूरा समर्थन दिया है| मैं समझता हूँ हमारी जो अगली पीढ़ी है, यहाँ जो सब युवा-युवती हैं वह सब धन्यवाद देंगे हम सबका कि हमने उनके लिए एक ईमानदार व्यवस्था छोड़ी इस देश में|

युवा-युवती तो चाहते हैं भाई अपना आराम से सुबह जाओ दुकान पर, फैक्ट्री पर, शाम को घर आओ नहा-धोके पार्टी में जाओ, जैसा नरेश जी कह रहे थे कि रात को बुलाओ भोजन के साथ तो सब लोग पहुँच जाते हैं| रात को अच्छी जमकर पार्टी करो, चैन की नींद सो रात को बिना भयभीत हुए कि कौन आएगा, कौन परेशान करेगा क्योंकि जब हमने गलत काम किया ही नहीं तो कोई हमें परेशान करने की हिम्मत नहीं कर सके|

और ईमानदार लोगों के पीछे प्रधानमंत्री मोदी जी और पूरी भारतीय जनता पार्टी खड़ी है और आपको कभी कोई तंग करे जब आपका व्यापार ईमानदार है, जब आपका काम साफ़ सुथरा है तो भारतीय जनता पार्टी और हमारा एक-एक नेता आपके साथ खड़ा है, आपको कोई किसी अधिकारी से डरने की ज़रूरत नहीं है|

यह बड़ा जो बदलाव इस देश में लाया गया है यह सरल नहीं है जैसा पांडेय जी ने कहा, जैसा अनिल जी ने कहा, स्वाभाविक है जो लोगों को इतने वर्षों तक भ्रष्टाचार के ऊपर आधारित अर्थव्यवस्था में लाभ मिला जिन्होंने मुफ्त में कोल की खदानें ली, जिन लोगों को भूमि मिलती थी मुफ्त में और फिर वह अनाप-शनाप तरीके से उसको मुनाफा करते थे व्यक्तिगत रूप में समाज को उसका कोई लाभ नहीं देते थे|

ऐसे सब तत्वों को इस देश की जनता ने ठुकराया है, बार-बार ठुकराया है और 2019 के चुनाव में फिर एक बार बहुत कड़ी हार देगी उत्तर प्रदेश की जनता, उत्तर प्रदेश का हर एक नागरिक ऐसे तत्वों को| और कोई गठबंधन बन जाये, कोई महागठबंधन बने मुझे पूरा विश्वास है समाज का हर अंग भारतीय जनता पार्टी, प्रधानमंत्री मोदी जी, और अमित शाह जी, योगी आदित्यनाथ जी के साथ खड़ा रहेगा, उनको फिर एक बार विजयी बनाएगा और एक देश में अच्छा शासन, ईमानदार शासन को प्रोत्साहित करेगा|

हमारे समाज में वैसे हर्षवर्धन जी ने भी बताया, महेंद्र जी भी बता रहे थे, एक दानवीर समाज है अग्रवाल समाज वैश्य समाज, कभी भी जो वंचित रहे, शोषित रहे, पीड़ित रहे उनके प्रति संवेदना रही है हमारे समाज में| और मैं समझता हूँ कि शायद ही कोई इतिहास में मौका रहा हो जब हमारे समाज ने देश भक्ति का परिचय न दिया हो, चाहे वह आज़ादी की लड़ाई हो, चाहे कभी देश के ऊपर किसी प्रकार का प्रहार हुआ हो या आर्थिक समस्या आई हो हमारा समाज सबसे अग्रसर रहा उस चुनौती का सामना करने के लिए|

मैं समझता हूँ इस देश में वह समानता की जो कल्पना से प्रधानमंत्री मोदी जी ने अपना काम शुरू किया है, जो एक राष्ट्रवादी ताकतों को प्रधानमंत्री मोदी जी ने बल दिया है, जिस प्रकार से व्यापार ईमानदार बनाने के लिए जो अलग-अलग कदम उठाएं हैं, जो देश की आर्थिक व्यवस्था को तेज़ गति से प्रगति और विकास की तरफ लेकर गए हैं, जिस प्रकार से घाटा कम किया, महंगाई कम की और अर्थव्यवस्था को तेज़ गति दी यह शायद एक सुनहरा मौका है हम सबको, व्यापारियों को कि हम अपने व्यापार को भी इस नए ढांचे में जोडें, नए तरीके से व्यापार करें और विरोधियों की गलत प्रचार में कभी न आयें|

आप सब समझते हैं आज पेट्रोल-डीजल के दाम अगर बढ़े हैं तो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर जो डॉलर की कीमतें जो सुधरी हैं, बढ़ी हैं और क्रूड ऑइल, ऑइल की कीमतें बढ़ी हैं उसका स्वाभाविक है भारत पर भी इम्पैक्ट हुआ है| लेकिन उसके बावजूद जो कुल महंगाई का दर है वह अभी तक 4% से बढ़ा नहीं है, 2013-14 तक डबल डिजिट, 10%, 12% महंगाई के दर हम सबने देखे हैं|

प्रधानमंत्री मोदी जी के चार वर्षों में और इस बढ़े हुए पेट्रोल-डीजल दामों के बावजूद महंगाई की दर 4-4.15% से ज्यादा नहीं हुई| एक पूरी तरीके से अर्थव्यवस्था कैसे सुधारना यह काम प्रधानमंत्री जी और उनकी सरकार ने किया| आखिर आज दालों की कीमत देखो तो आधी हो गयी है, अलग-अलग वस्तुओं में देखोगे तो आपको ध्यान में आएगा कि एक पूरी जो हमारी बजट होती है, एक घर का जो पूरा बजट होता है, एक बिज़नेस का जो पूरा बजट होता है उसमें महंगाई को कम किया गया है| स्वाभाविक है कि हमें चिंता है पेट्रोल-डीजल की और स्वाभाविक है कि सरकार भी उसपर पूरी नज़र रख रही है और सही समय पर उसपर जो कार्रवाई उचित होगी वह करेगी|

लेकिन सम्पूर्ण रूप से जब हम देखते हैं तो जो 10-12% महंगाई हमें विरासत में मिली थी हमने चार वर्षों में आज तक उसको पूरी तरीके से नियंत्रण में रखा है, 4-4.15% से आगे बढ़ने नहीं दिया है|

आज अलग-अलग प्रकार से झूट के आधार पर कई सारे गलत समाचार भी निकालने की कोशिश की जा रही है, मैं समझता हूँ यह देश समझदार है, भारत की जनता अच्छी तरह जानती है कि इस देश में कौन ईमानदार है, कौन इस देश को एक ईमानदार व्यवस्था दे रहा है, किसके नेतृत्व में देश सुरक्षित है और मुझे पूरा विश्वास है कि आप सबके आशीर्वाद से, आप सबके प्रयत्नों से, आप सबके उत्साह और उमंग से हमारे समाज एकजुट होकर प्रधानमंत्री मोदी जी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी, उत्तर प्रदेश के सन्मान्य मुख्यमंत्री महाराज योगी आदित्यनाथ जी, महेंद्र नाथ पांडेय जी, नरेश अग्रवाल जी, अनिल अग्रवाल जी, नितिन अग्रवाल जी, सबके पीछे एकजुट होकर पूरा समाज एक स्वर में काम करेगा, एक साथ काम करेगा और भारतीय जनता पार्टी को 51% से अधिक वोट दिलाकर उत्तर प्रदेश की हर एक सीट में विजय दिलाएगा ऐसे पूरी तरीके से आपके विश्वास को लेकर मैं आज अपनी बात को विराम देता हूँ|

आप सब यहाँ पर इतनी बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश से आये आप सबका बहुत-बहुत धन्यवाद| आप सबको बहुत-बहुत शुभकामनाएं|

 

Next Speech

October 4, 2018 Speaking at 2nd IC- TRAM 2018, in New Delhi

Subscribe to Newsletter